Workshop

3 MONTH FILM ACTING WORKSHOP



From : 25/08/2022 To : 24/11/2022
Start time : 1:30 PM End time : 3:30 PM

Theatre Group : Naresh Panchal's MUMBAI ACTING INSTITUTE
Faculty : Acting Coach NARESH PANCHAL
Venue : Bhaktti Wellness centre, Springfields Building-ll, Behind HDFC Bank, Lokhandwala Market, Landmark Celebration Club

Mumbai - 400053, Maharashtra, India

Workshop details :
Contact Details
Enter your details to connect with the Theatre Group
Name :  *
Email Id :  *
Mobile :  *
City :  *
Please enter the text shown in image
This Is CAPTCHA Image  
Email Me Contact Details
नए ऐक्टर्स की बात करें तो ज़्यादातर ऐक्टर्स फ़िल्म, सीरियल, वेबसिरीज़, कमर्शियल विज्ञापन आदि में ही काम करना चाहते हैं। भले ही उनका बैकग्राउण्ड थिएटर का रहा हो, फिर भी छोटा-बड़ा पर्दा आकर्षित करता है, काम भी देता है। इसीलिए यह तीन महीने का फ़िल्म ऐक्टिंग कोर्स कैमरे के सामने ऐक्टिंग के लिए डिज़ाइन किया गया है।

चूँकि सिनेमा एक तकनीकी माध्यम है, इसलिए इसे समझना और फिर उसके अनुरूप ऐक्टिंग करना आना चाहिए।

याद रखिए, नसीरुद्दीन शाह और ओम पुरी जैसे दिग्गज कलाकार NSD (DELHI) में तीन साल तक थिएटर सीखने के बाद FTII (PUNE) भी सीखने गए, क्योंकि वो सिनेमा करना चाहते थे। चूँकि उन्होंने एफटीआईआई में भी ट्रेनिंग ली थी, जो कैमरे के लिए होती है, इसीलिए दोनो बहुत ही उम्दा कलाकार बन पाए। उन्होंने सालों दिए सिर्फ़ सीखने में क्योंकि वो सीखने की अहमियत समझ गए। वक़्त रहते आप भी सिनेमा और कैमरे के तकनीकी पहलुओं को समझ कर ऐक्टिंग करना सीख लेंगे तो आपका वक़्त भी बचेगा और पैसा भी। जब ऑडिशन भी कैमरे के सामने ही पास करने की चुनौती रहती है तो फिर कैमरे के सामने ऐक्टिंग सीखने से क्यों पीछे हैं?

'डायरेक्टर आपसे काम करवा लेगा' सोचकर कई ऐक्टर ख़ुद को 'अपडेट' नहीं करते, थिएटर के 'बैकग्राउण्ड' को ही पर्याप्त समझ लेते हैं और पीछे रह जाते हैं।

याद रखिए, अगर आप सही रास्ते पर हैं, फिर भी धीमे या 'स्लो' हैं, तो भी आप पीछे रह जाएँगे। थिएटर में सीखने में ही तीन-चार साल निकल जाते हैं। जबकि यही सारी बातें आप 3 महीने के कोर्स में सीखकर उससे भी 'एडवांस' स्तर पर जा सकते हैं। ज़माना अब उन लोगों का है जो सही रास्ते पर होकर भी तेज़ चल पाते हैं। वरना सही रास्ते पर भी अनजाने में 'स्लो' रहने से कई साल मुम्बई में गुज़र जाते हैं। इसमें रहने-खाने, किराए आदि में बहुत सारा पैसा भी चला जाता है और उम्र भी।

यह 3 महीने का कोर्स बहुत ही 'एक्सक्लूसिव' और 'स्पेशल' है। इसमें 'डिक्शन', 'वॉइस मॉड्यूलेशन', 'डायलॉग डिलीवरी' से लेकर 'मोनोलॉग' और 'सीन' शूट तक शामिल है। आपके कई मोनोलॉग और सीन के 'फ़ाइनल' विडियोज़ भी बनते हैं जो 'कास्टिंग डायरेक्टर्स' को भेजने के काम आते हैं। इससे अच्छा काम मिलने में आसानी होती है।

कोर्स 'प्रैक्टिकल बेस्ड' रखा गया है, ताकि कैमरे के सामने आप सहज होते चले जाएँ और कमियाँ व ग़लतियाँ भी तेज़ी से दूर हों। कोर्स के दौरान सारा 'फ़ोकस' आपकी व्यक्तिगत 'प्रोग्रेस' पर रखा जाता है। इसके लिए एक बैच में सिर्फ़ 12 सीट ही हैं। इसीलिए यह 'क्वालिटी ट्रेनिंग' है।

हमारा यह 3 महीने का कोर्स आपको ऐक्टिंग 'क्राफ़्ट' में तो अच्छा करता ही है। साथ ही ऑडिशन देना भी यहाँ आप सीखते हैं, वो भी बिल्कुल प्रैक्टिकल तरीक़े से मतलब कैमरे के सामने ऑडिशन स्क्रिप्ट पर।

ऑडिशन कैसे देना है, क्या-क्या ग़लतियाँ अन्य ऐक्टर करते हैं, आपको क्या करना है, क्या-क्या सावधानियाँ बरतनी है, ऑडिशन कहाँ होते हैं, कैसे पता चलता है, पोर्टफ़ोलियो और आर्टिस्ट कार्ड आदि से जुड़ी हर जानकारी आपको दी जाती है। आपकी और भी शंकाओं का समाधान एक्टिंग कोच नरेश पाँचाल करते हैं।

नरेश पाँचाल को फ़िल्म ऐक्टिंग ट्रेनिंग का लगभग 15 साल का अनुभव है। वह knk actiing institute (किशोर नमित कपूर एक्टिंग इंस्टीट्यू) में 8 साल तक ऐक्टिंग कोच रहे हैं। लगभग पाँच साल तक वहाँ के डीन भी रहे। फिर लोखण्डवाला में अपना ऐक्टिंग स्कूल 2015 में शुरू किया। नरेश सर ने एक किताब भी लिखी है जो मुम्बई आने वाले नए ऐक्टर्स के लिए एक दोस्त और गाइड दोनों का काम पूरा करती है। किताब का नाम है- "ऐक्टर बनना है तो यह बातें जानना बहुत ज़रूरी है"। यह किताब अमेज़ॉन और फ़्लिपकार्ट से घर पर मंगा सकते हैं।
नरेश सर के साथ 3 महीने रहकर आपको बहुत सीखने को मिलेगा। यह एक तरह से आपके ट्राँसफ़ोर्मेशन की अवधि होगी जो आपकी तरक़्क़ी को पुख़्ता करेगी। कोर्स की अन्य जानकारी इस प्रकार है-

फ़िल्म ऐक्टिंग ट्रेनिंग
अवधि : 3 महीना (दीपावली पर 15 अक्टूबर से 15 दिन का अवकाश रहेगा। यह 15 दिन कोर्स की अवधि में बढ़ा दिए जाएंगे ताकि पूरे 3 महीने आपकी ट्रेनिंग हो।)
दिन : 5 सप्ताह में पाँच दिन ( सोमवार से शुक्रवार)
समय : 2 घंटे रोज़ाना
उम्र : 18 साल और इससे बड़ी उम्र के
(एक बैच में केवल 12 स्टूडेंट्स)
दस्तावेज़ः एक पासपोर्ट साइज़ फ़ोटो और किसी भी आईडी की फ़ोटो कॉपी



Theatre Workshop Fees : 50000

Important Note : Mumbai Theatre Guide takes no responsibility for outcome of theatre workshops. Interested participants may attend them at their own discretion.

Are you organizing a workshop?
Or is there any workshop that we have missed out?



   

Featured Workshops



   You may also like this

   Discussion Board



Schedule


Theatre Workshops
Register a workshop | View all workshops

Subscribe


About Us | Feedback | Contact Us | Write to us | Careers | Free Updates via SMS